लग्जरी होटल खर्च पर अटकी ट्रंप-किम की मुलाकात, अमेरिका ने कहा- हम नहीं देंगे पैसे

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के प्रमुख किम जोंग उन के बीच सिंगापुर में होने वाले ऐतिहासिक शिखर सम्मेलन को लेकर तैयारियों जोरों पर हैं. लेकिन किम जोंग उन के पास होटल में रुकने के पैसे नहीं हैं. ऐसे में अब अमेरिका ने साफ किया है कि वह किम जोंग के प्रतिनिधिमंडल का होटल खर्च नहीं देगा.लग्जरी होटल खर्च पर अटकी ट्रंप-किम की मुलाकात, अमेरिका ने कहा- हम नहीं देंगे पैसे

होटल में एक प्रेजिडेंशियल सुइट की कीमत 6,000 डॉलर से ज्यादा

द वाशिंगटन पोस्ट के मुताबिक, उत्तर कोरिया की अर्थव्यवस्था कड़े प्रतिबंधों की वजह से कमजोर हो गई है. उत्तर कोरिया को जरूरत है कि सिंगापुर में सिंगापुर नदी के मुहाने के पास फुलर्टन होटल में उनका खर्च कोई अन्य देश उठाए. इस होटल में एक प्रेजिडेंशियल सुइट की कीमत प्रतिरात 6,000 डॉलर से ज्यादा है.

बता दें कि कई सप्ताह की अनिश्चितता के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले सप्ताह यह वार्ता रद्द कर दी थी, लेकिन दोनों पक्षों के राजनयिक प्रयासों से यह वार्ता फिर से पटरी पर आ गई.

सिंगापुर के सेंटोसा द्वीप पर दि कैपेला होटल नाम के लग्जरी रिजॉर्ट में 12 जून को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन के बीच शिखर वार्ता होगी. अगले मंगलवार को होने वाली ऐतिहासिक शिखर वार्ता के लिए सिंगापुर ने सेंटोसा द्वीप के पर्यटक रिजॉर्ट को विशेष कार्यक्रम क्षेत्र के तौर पर नामित कर दिया.

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने कहा, ‘‘अमेरिकी राष्ट्रपति और (उत्तर कोरियाई) नेता किम जोंग-उन के बीच शिखर वार्ता की जगह सेंटोसा द्वीप पर दि कैपेला होटल होगी. हम आतिथ्य-सत्कार के लिए अपने सिंगापुरी मेजबानों का शुक्रिया अदा करते हैं.’’

Loading...
IGNITED MINDS