इस फिल्म को देख अक्की हुए भावुक, हंस-हंसकर रो दिए

बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार को सामाजिक चिंतक है और वो अक्सर सामाजितक मुद्दों को उठाते हैं अपने विचार रखते हैं. अक्षय कुमार ने ‘टॉयलेट : एक प्रेम कथा’, पैडमैन, जैसी फ़िल्में सामाजिक समस्याओं को ध्यान में रखकर बनाई हैं. हाल ही में अक्षय कुमार ने एक मराठी फिल्म ‘चुम्बक’ दिखी है. इससे वो इतने प्रभावित हो गए हैं कि वो इस फिल्म को देखकर रोये भी और हंसे भी. यह बात अक्षय कुमार ने अपना एक वीडियो  शेयर कर बताई है.अक्षय कुमार ने हाल ही में मराठी फिल्म 'चुम्बक' दिखी है. जिससे वो काफी प्रभावी हुए हैं उन्होंने अपना एक वीडियो बनाकर ट्वीट किया है. जिसमें वो बता रहे हैं कि 'हर सिनेमा की अपनी भाषा होती है. उन्होंने आगे यह भी बताया कि उन्होंने कई फ़िल्में देखीं हैं पर इस फिल्म का हर करैक्टर उनके दिमाग में घर कर गया है. उन्होंने यह भी बताया कि वो इस फिल्म को देखकर कई बार हंसे तो कई बार रोये भी.     आपको बता दें कि इस फिल्म की कहानी रेस्तरां में काम करने वाले लड़के और गांव के एक अनाड़ी के बीच दोस्ती पर आधारित है. 'चुंबक' एक 15 साल के लड़के बालू और 45 साल के प्रसन्ना की कहानी है. प्रसन्ना एक मंदबुद्धि आदमी है. 27 जुलाई को यह फिल्म रिलीज़ हो रही है.

अक्षय कुमार ने हाल ही में मराठी फिल्म ‘चुम्बक’ दिखी है. जिससे वो काफी प्रभावी हुए हैं उन्होंने अपना एक वीडियो बनाकर ट्वीट किया है. जिसमें वो बता रहे हैं कि ‘हर सिनेमा की अपनी भाषा होती है. उन्होंने आगे यह भी बताया कि उन्होंने कई फ़िल्में देखीं हैं पर इस फिल्म का हर करैक्टर उनके दिमाग में घर कर गया है. उन्होंने यह भी बताया कि वो इस फिल्म को देखकर कई बार हंसे तो कई बार रोये भी. 

आपको बता दें कि इस फिल्म की कहानी रेस्तरां में काम करने वाले लड़के और गांव के एक अनाड़ी के बीच दोस्ती पर आधारित है. ‘चुंबक’ एक 15 साल के लड़के बालू और 45 साल के प्रसन्ना की कहानी है. प्रसन्ना एक मंदबुद्धि आदमी है. 27 जुलाई को यह फिल्म रिलीज़ हो रही है.

Loading...
IGNITED MINDS