वीरागंना दल की सखी-सहेली ने पढ़ाया स्वच्छता का पाठ

बाराबंकी : पोषण पखवाड़े के अंतर्गत प्रत्येक दिन कोई ना कोई दिवस के रूप में मनाए जाने का क्रम लगातार चल रहा है। जिसमें प्रतिदिन पोषण और स्वास्थ्य से जुड़ी गतिविधियां की जा रहीं हैं । इसी क्रम में आज जिले के सभी आंगनबाडी केन्द्रों पर वीरांगन दल की सखी. सहेली द्वारा स्वच्क्षता अभियान को लेकर एक बैठक हुई । इस दौरान किशोरियों  बालिकाओं को साफ . सफाई के बारे में विभिन्न जानकारियां देते हुए जागरूक किया गया। उक्त कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते जिला कार्यक्रम अधिकारी प्रकाश कुमार चौरसिया ने बताया कि जनपद के सभी आंगनबाड़ी केन्द्रो पर स्वाच्छता अभियान को लेकर वीरांगना दल की सखी और सहेली के नेतृत्व में समूह के सदस्यो की बैठक हुई ।

इस दौरान वीरांगना सखी और सहेली द्वारा समूह के अन्य सदस्यों को अपने स्वास्थ्य को ठीक रखने के लिए अपने आसपास साफ .सफाई रखने के कई फायदों के बारे में बताया गया । बीमारियों में डेंगूए मलेरियाए चिंकनगुनियां सहित अन्य बीमारियों के बारे में जानकारियां दी गई। इसके अलावा गंदगी से हैजाए कालराए निमोनियाए पीलियाए हेपेटाइटिस आदि बीमारियां से बचने की जानकारी दी गई । जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कहा कि अगर किसी गांव में गड्ढे में जल भराव हो तथा उसमें मच्छर तथा उसके लार्वा दिखे तो तत्काल वहाँ पर छिङकाव तथा फागिंग कराएं । ताकि मच्छर जनित रोगों से निजात मिल सके । उसी प्रकार लोग जल जनित एवं संक्रामक रोगों के प्रति भी सचेत रहें ताकि वे विभिन्न बीमारियों से निजात मिल सकें ।

व्यंजन प्रतियोगिता

वही पोषण पखवाड़ा में सोमवार को सभी आंगनवाड़ी केंद्रों पर व्यंजन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसमें साग. सब्जियों फॉलो से पोषक आहार बनाए जाने की प्रतियोगिता कराई गई। जिसमें सभी ग्राम वासियों विशेषकर गर्भवतीए धात्री माताओंए किशोरियों द्वारा अत्यंत रुचि से भाग लिया गया। इन सभी आंगनवाड़ी केंद्रों पर कद्दू लौकी गाजर पालक टमाटर एवं अन्य साग . सब्जियां जो उपलब्ध थेएउसमें कौन से विटामिन हैए उनको खाने से क्या फायदे होते हैंए किस विटामिन से आपके शरीर को कौन सा फायदा हैए आयरन किसमें किसमें ज्यादा हैए सहजन और आंवले के गुण के साथ.साथ उसके उपयोग के तरीकों के बारे में जन सामान्य को बताया गया । सभी 3052 आंगनबाड़ी केंद्रों पर 18 हजार से अधिक महिलाओं व किशोरियों के द्वारा पूरे जोश व उल्लास के बीच प्रतियोगिता हुई। इस दौरान ग्राम प्रधानों द्वारा भी भाग लिया गयाए साथ ही कई स्थानों पर प्रधानों द्वारा पुरस्कार भी अपने स्तर से प्रदान किए गए ।

Loading...
IGNITED MINDS