योगी राज में विद्युत आपूर्ति में अभूत पूर्व सुधार के लिए प्रदेश सरकार को बधाई – शलभ मणि त्रिपाठी

सवा लाख मजरों को अंधेर में छोड़ने वाले अखिलेश से बेहतर हुई बिजली व्यवस्था पर दे रहे है गुमराह करने वाले बयान

लखनऊ 30 जून 2018, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि उ०प्र० के सवा लाख मजरो को बिना बिजली के अंधकार में छोड़ने वाले श्रीमान अखिलेश यादव जी योगी सरकार में बेहतर हुई बिजली व्यवस्था को लेकर बेचैन हैं और इसीलिए गुमराह करने वाले बयान दे रहे हैं।प्रदेश की जनता ने देखा है कि कैसे अखिलेश जी के राज्य में न सिर्फ लोग बिजली पानी के लिए तरसते हैं बल्कि ट्रांफॉर्मेरों की खरीद से लेकर बिजली के तार और पोल लगाने तक मे घोटाले किये गए । इतना ही नहीं केंद्र सरकार की तरफ से सस्ती बिजली दिए जाने के बावजूद अखिलेश जी की सरकार प्राइवेट कम्पनियों से महंगी बिजली खरीदती रही। तमाम विपरीत परिस्थितियों में भी शहरों को 24 घंटे, गांव 18 घंटे और तहसीलों को 20 घंटे बिजली मुहैया कराने के लिए उ०प्र० के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा जी साधुवाद के पात्र हैं।

शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि योगी आदित्यनाथ जी ने जब सूबे की सत्ता संभाली थी तब ऊर्जा के क्षेत्र में बेहद बुरे हालात थे । प्रदेश ने सवा लाख मजरों यानी कि करीब 2 करोड़ परिवारों ने आज तक रोशनी नही देखी थी। अखिलेश जी की सरकार में वीआईपी जिलों में और जाति-धर्म देखकर बिजली दी जाती थी। ऐसे में मुख्यमंत्री जी के मार्गदर्शन में ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा जी ने एक साल के भीतर उन 45 लाख घरों तक बिजली का कनेक्शन पहुंचाया , जहां आज तक बिजली नहीं पहुंची थी। इनमे 20 लाख परिवारों तक को मुफ्त बिजली कनेक्शन दिया । अखिलेश जी अपने पांच साल के सरकार में भी इतने कनेक्शन नहीं बांट पाए।

प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि अखिलेश यादव जी अपने पांच साल के सरकार में उ०प्र० में अधिकतम 15 हज़ार 501 मेगावाट बिजली ही दे पाए थे। जबकि योगी आदित्यनाथ जी की सरकार 20 हज़ार 837 मेगावाट बिजली की आपूर्ति कर रही है। अखिलेश जी सरकार में लगाये गए घटिया ट्रांसफॉर्मरों को भी बदलने और उनको अपग्रेड करने का काम किया गया है। एक साल के भीतर योगी सरकार ने 3 लाख घटिया ट्रांसफार्मर बदले गए हैं जो कि अखिलेश जी की सरकार में लगाये गए थे और जिनके चलते विद्युत आपूर्ति बाधित होती थी। ट्रांसफार्मर जलने की शिकायतें मिलते ही 24 से 48 घण्टे में ट्रांसफार्मर बदलने का काम किया गया है। यही नहीं सोशल साइट पर भी खुद ऊर्जा मंत्री की सक्रियता रखते हुए आम जनता की तरफ से आने वाली हर शिकायत पर खुद नज़र रखते है और उसे सुनकर तत्काल निराकरण भी करा रहे है।
शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा लगातार बेहतर होती हुई बिजली व्यवस्था से श्रीमान अखिलेश जी और उनकी पार्टी के लोग परेशान है और इसीलिए हताश भरे बयान दे रहे हैं।

Loading...
IGNITED MINDS