स्वामी चिन्मयानंद, पीड़ित छात्रा और तीनों युवकों की आवाज के नमूने लिए गये

SIT का दावा, एफएसएल लैब की जांच में वीडियो सही पाए गए

लखनऊ : पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद, लॉ कॉलेज की छात्रा और उसके तीन दोस्तों को आवाज के नमूने लेने के लिए बुधवार को शाहजहांपुर से लखनऊ लाया गया है। लखनऊ के विधि विज्ञान प्रयोगशाला में पांचों की आवाज के नमूने लिए गए हैं जिसका वायरल हुए वीडियो से मिलान कराया जाएगा। सीजेएम कोर्ट की अनुमति मिलने के बाद एसआईटी ने यह कदम उठाया है। इस दौरान प्रयोगशाला के अधिकारी, एसआईटी टीम के सभी सदस्य, शाहजहांपुर जेल से आये सुरक्षाकर्मी और स्थानीय पुलिस के उपनिरीक्षक जवान मौजूद रहे।

पूर्व केन्द्रीय गृह मंत्री चिन्मयानंद के विरुद्ध एसआईटी की जांच शुरू होने के बाद मालिश वाले वायरल वीडियो को जांच के लिए लखनऊ के विधि विज्ञान प्रयोगशाला भेजा गया था। इसके बाद उसमें सुनायी देने वाली आवाजों की जांच होनी थी जिसके लिए एसआईटी की टीम के कुछ सदस्य सुबह छह बजे के करीब शाहजहांपुर जेल से सबसे पहले लॉ कॉलेज की छात्रा को लेकर निकले और लखनऊ आये। इसके ढाई घंटे बाद चिन्मयानंद को शाहजहांपुर जेल से भारी सुरक्षा के बीच एसआईटी के अन्य सदस्यों ने लखनऊ पहुंचाया। करीब डेढ़ घंटे बाद छात्रा के तीनाें साथी सचिन, संजय और विक्रम को लखनऊ लाया गया। लखनऊ लाते समय तीनों में पर्याप्त दूरी रखी गयी, जिससे कोई आपस में वार्ता ना कर सके।

 

Loading...
IGNITED MINDS