NRC विवाद के बीच आज कोलकाता में अमित शाह, BJP समर्थकों की बस पर हमला

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह आज कोलकाता में रैली करेंगे. वहीं दूसरी तरफ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस यानी एनआरसी के खिलाफ पूरे राज्य में धिक्कार दिवस मनाएगी. हालांकि कोलकाता में अमित शाह की रैली के चलते यहां रविवार को धिक्कार दिवस के तहत रैली निकाली जाएगी.NRC विवाद के बीच आज कोलकाता में अमित शाह, BJP समर्थकों की बस पर हमला

अमित शाह की रैली में शामिल होने के लिए कोलकाता आ रहे बीजेपी समर्थकों की बस पर हमला किया गया है. जानकारी के मुताबिक शुक्रवार रात कोलकाता जा रही बीजेपी समर्थकों से भरी बस पर पश्चिमी मिदनापुर के चंद्रकोर में हमला किया.

तृणमूल कांग्रेस के महासचिव और राज्य के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने कहा कि शनिवार की योजना से राज्य की राजधानी कोलकाता को बाहर रखा गया है. उन्होंने कहा कि कोलकाता को छोड़कर, हम एनआरसी के विरोध में पूरे राज्य में रैलियां आयोजित करेंगे. कोलकाता में रविवार को अलग से एक रैली निकाली जाएगी. साथ ही उन्होंने असम सरकार पर एनआरसी मसौदे से बंगालियों को जानबूझकर बाहर रखने का आरोप भी लगाया.

शाह की रैली से पहले लगे बीजेपी विरोधी बैनर

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की शनिवार को कोलकाता में होने वाली रैली से पहले आयोजन स्थल के आसपास बीजेपी विरोधी पोस्टर-बैनरों की रातों-रात भरमार हो गई. पार्क स्ट्रीट के सामने मायो रोड पर ऐसे बैनर लगे देखे गए जिन पर लिखा था- ‘ANTI-BENGAL BJP GO BACK ‘ (बंगाल विरोधी बीजेपी वापस जाओ). पार्क स्ट्रीट पर ही अमित शाह की रैली का आयोजन होना है.

सुरक्षा के मुद्दे पर दिलीप घोष ने राजनाथ सिंह को लिखा खत

असम में एनआरसी के खिलाफ टीएमसी द्वारा विरोध रैली आयोजित करने की घोषणा किए जाने के बाद बीजेपी नेतृत्व ने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की रैली में शामिल होने वाले कार्यकर्ताओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह और राज्य के प्रमुख सचिव को पत्र लिखा.

पश्चिम बंगाल बीजेपी के अध्यक्ष दिलीप घोष ने राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि वह टीएमसी से बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की रैली में आने वाले और फिर यहां से वापस जाने वाले बीजेपी कार्यकर्ताओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के आदेश दें.

बता दें कि आज होने वाली अमित शाह की रैली को लेकर पहले ये अटकलें लगाई जा रही थीं कि उन्हें यहां रैली की अनुमति नहीं मिलेगी लेकिन बाद में कोलकाता पुलिस ने आधिकारिक बयान जारी करते हुए सभी अटकलों पर विराम लगा दिया था और अमित शाह को कोलकाता में रैली करने की अनुमति दे दी गई थी.

अमित शाह ने भी कहा था कि ये मायने नहीं रखता कि मुझे कोलकाता में रैली करने की अनुमति मिले या नहीं मिले लेकिन मैं निश्चित तौर पर कोलकाता जाऊंगा, अगर राज्य सरकार चाहे तो मुझे गिरफ्तार कर सकती है.

Loading...
IGNITED MINDS