शिक्षा से ही दूर होगी समाज की कुरीतियां

रुद्रप्रयाग: वर्तमान में देश में बालिका शिक्षा को अधिक महत्त्व दिया जाता हैं, कल राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान (रमसा) के तहत बालिका अभिप्रेरण शिविर का आयोजन किया गया. इस शिविर में बालिका को स्वास्थ्य व आत्मरक्षा के बारे में जानकारी दी गई. छात्रों को भविष्य से भी अवगत कराया गया और कहा कि, आगामी समय उन्ही का समय है. एवं इसे देखते हुए बालिकाओं को स्वयं की भीतरी झिझक को दूर करना होगा.

इस शिविर में बालिकाओं को महत्वपूर्ण जानकारी के साथ-साथ अन्य प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया गया, जिसमे बेहतर प्रदर्शन करने वाली छात्राओं को पुरष्कृत भी किया गया.  शिविर का जीजीआईसी में किया गया था, इसका उद्घाटन जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल की पत्नी ऊषा घिल्डियाल द्वारा किया गया. इस अवसर पर उन्होंने बताया कि,  शिक्षा से ही समाज की कुरीतियों को दूर किया जा सकता है. श्रीमती घिल्डियाल ने कहा कि, छात्राएं अब बिना डरे अपने पैरों पर खड़ी होंगी. 

कार्यक्रम में भाषण और ‘बालिका सब कुछ कर सकती है’ विषय पर नृत्य नाटिका प्रस्तुत की गई. इस दौरान प्रतिभागी छात्राओं को सम्मानित भी किया गया. कार्यक्रम में प्रधानाध्यापिका डॉ. ममता नौटियाल, अंजु कुमेड़ी, सुषमा चौधरी, मीनाक्षी नेगी, संध्या गोस्वामी, भावना, निशा पंवार उपस्थित रहे. वही इस शिविर के कार्यक्रम का संचालन सुनीता नौटियाल द्वारा किया गया. 

Loading...
IGNITED MINDS