बदल रहा उत्तर प्रदेश, सभी जनपदों में होगा मेडिकल कालेज : मुख्यमंत्री

औरैया। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार जिला मुख्यालय में जनसभा के अलावा मेडिकल कॉलेज एवं अन्य योजनाओं का लोकार्पण करने आए मुख्यमंत्री ने विपक्षी पार्टियों पर जोरदार हमला बोला।

उन्होंने कहा कि बगल में इटावा है, सपा, बसपा और कांग्रेस ने शासन किया। चिकित्सा के क्षेत्र में कोई काम नहीं किया, हमने केवल मेडिकल कॉलेज ही नहीं बल्कि लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस की व्यवस्था की। केवल 12 मेडिकल कॉलेज हमने केवल 5 वर्ष में ही प्रदेश को दिए यह 58 वां मेडिकल कॉलेज है। कहा कि प्रदेश के सभी 75 जिलों में मेडिकल कॉलेज होगा। अब प्रदेश बदल रहा है, पहले माफिया बहन बेटियों का जीना हराम किये थे आज माफिया और उसके शरण दाताओं पर बुल्डोजर चल रहा है। पर्व व त्योहारों पर दंगे होते थे, आस्था पर कुठारागात और छोटे बड़े व्यापारियों की कमाई लूटी जाती थी।

साढ़े 4 साल में एक भी दंगा नहीं हुआ, दंगाइयों से कह दिया गया है कि 7 पीढ़ियों की कमाई भूल जाओ। यदि दंगा किये तो ब्याज सहित वसूली होगी। हम योजनाओं में कोई भेदभाव नहीं करते किन्तु तुष्टिकरण किसी का नहीं किया। किसान सम्मान में 240 करोड़ अन्नदाताओं के खाते में दिए। जनपद में 25 हजार लोगों को अब तक आवास दिए गए। सौभाग्य योजनाओं में 46 हजार कनेक्शन मुफ्त में दिए। सभी को फ्री में खाद्यान्न दिया। मार्च तक गरीबों को फ्री में गेंहू चावल, दाल, चीनी, नमक और तेल देंगे। मंहगाई पहले भी बढ़ती थी। प्रधानमंत्री ने डीजल व पेट्रोल की एक्साइज ड्यूटी घटा दी है।

कहा कि पहली बार पेट्रोल और डीजल के दामों में 12-12 रुपये कम किये। विधायक रमेश दिवाकर की कोरोना से मृत्यु हुई से हमे कोरोना से सतर्क रहना है। उन्होंने कहा कि उपचार, टेस्ट व वैक्सीन फ्री में दे रहे हैं। सबका साथ और सबका विकास हो रहा है। नौजवानों को नौकरी, किसानों को किसान सम्मान निधि आदि दिया जा रहा है। जोर देते हुए कहा दो गज दूरी, मास्क है जरूरी का पालन करना होगा। पंचनद की परियोजना को बढ़ाने के लिए सरकार ने निर्णय लिया है।

सिंचाई और पेयजल की इस योजना से मदद मिलेगी। विकास योजनाओं की सिफारिश की जरूरत नहीं, सरकार हर विकास कार्य कराएगी। विपक्ष जेल में बंद माफियाओं से मिल रहे हैं। जिन्हें हम लोग चिमटा से भी नहीं छूते उन्हें विपक्षी गले लगा रहे हैं। वह लोग सरदार पटेल की तुलना जिन्ना से करते हैं। सीएम ने अखिलेश यादव पर जोरदार जुबानी हमला करते हुए कहा कि सरदार पटेल ने देश को जोड़ने का काम किया जबकि जिन्ना ने देश को देश को तोड़ने का कार्य किया। ऐसे तत्वों के मंसूबों को समझना होगा जो दोनों की तुलना करते हैं।

Loading...